भारत का अमृत महोत्सव में वन महोत्सव सप्ताह और वृक्षारोपण अभियान

10-17 जुलाई, 2021, भोपाल

भाकृअनुप-भारतीय मृदा विज्ञान संस्थान, भोपाल, मध्य प्रदेश ने 10 से 16 जुलाई, 2021 तक एक सप्ताह तक चलने वाले 'वन महोत्सव कार्यक्रम' और 17 जुलाई, 2021 को 'वृक्षारोपण अभियान' का आयोजन गाँवों में भाकृअनुप के 93वें स्थापना दिवस को मनाने के लिए किया।  

Van Mahotsav Week & Tree Plantation Campaign @ Bharat Ka Amrut Mahotsav  Van Mahotsav Week & Tree Plantation Campaign @ Bharat Ka Amrut Mahotsav

डॉ. अशोक कुमार पात्रा, निदेशक, भाकृअनुप-आईआईएसएस, भोपाल ने जीवन में फल-फसलों के महत्त्व पर प्रकाश डाला। उन्होंने पोषण खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कर्मचारियों और किसानों को अधिक फलदार फसलें लगाने के लिए भी प्रोत्साहित किया। डॉ. पात्रा ने फल-फसलों की विशेषताओं पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि उपेक्षित और सीमांत भूमि में जहाँ खाद्यान्न और अन्य खेत की फसलें नहीं उगाई जा सकतीं, वहाँ फसलें आर्थिक रूप से उगाई जा सकती हैं। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि प्रति इकाई क्षेत्र में फसल उत्पादकता बढ़ाने के लिए फलों की फसलों के बीच की जगह में अंतरफसलें भी उगाई जा सकती हैं। कृषि-बागवानी प्रणाली का ऐसा एकीकरण किसानों की आय को दोगुना करने का एक बेहतर विकल्प हो सकता है।

परिसर में विभिन्न किस्मों के लगभग 300 पपीते और 275 आम के पौधे लगाए गए तथा गोद लिए गए गाँवों में किसानों को वितरित किए गए।

कार्यक्रम में संस्थान के प्रभागाध्यक्षों, परियोजना समन्वयकों, वैज्ञानिकों, तकनीकी अधिकारियों, प्रशासनिक और सहायक कर्मचारियों ने भाग लिया।

यह कार्यक्रम भारत की स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में 'भारत का अमृत महोत्सव' के एक भाग के रूप में आयोजित किया गया था।

(स्रोत: भाकृअनुप-भारतीय मृदा विज्ञान संस्थान, भोपाल, मध्य प्रदेश)