भाकृअनुप-भारतीय दलहन अनुसंधान संस्थान, कानपुर ने 30वां स्थापना दिवस मनाया

5 सितम्बर, 2022, कानपुर

भाकृअनुप-भारतीय दलहन अनुसंधान संस्थान, कानपुर ने आज अपना 30वां स्थापना दिवस बड़े उत्साह और उल्लास के साथ मनाया।

ICAR-Indian Institute of Pulses Research, Kanpur celebrated 30th foundation day  ICAR-Indian Institute of Pulses Research, Kanpur celebrated 30th foundation day

डॉ तिलक राज शर्मा, उप महानिदेशक (फसल विज्ञान), भाकृअनुप ने इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की और स्थापना दिवस व्याख्यान दिया। उन्होंने देश में अब तक का सबसे अधिक दलहन उत्पादन प्राप्त करने की दिशा में संस्थान के प्रयासों और उपलब्धियों की सराहना की। डॉ शर्मा ने संस्थान के वैज्ञानिकों एवं कर्मचारियों से दाल उत्पादन की वर्तमान वृद्धि को बनाए रखने के लिए निरंतर प्रयास करने का आग्रह किया। उन्होंने किसानों की बेहतर आय के लिए दलहन की खेती की उत्पादन लागत को कम करने पर भी जोर दिया।

ICAR-Indian Institute of Pulses Research, Kanpur celebrated 30th foundation day

मुख्य अतिथि ने संस्थान में स्पीड ब्रीडिंग सुविधा की आधारशिला रखी और उच्च प्रोटीन और फाइबर बिस्कुट ब्रांड- महोदय एग्रीवर्क्स के डेलोमियो- संस्थान की एबीआई इकाई के एक इनक्यूबेटी का अनावरण किया।

सम्मानित अतिथि, डॉ. संजीव गुप्ता, एडीजी (तिलहन एवं दलहन) भाकृअनुप ने देश के दलहन उत्पादकों तक पहुंच बढ़ाने के लिए विभिन्न उत्पादन पद्धतियों के पैकेज के रूप में उपलब्ध कराने, दालों के मूल्यवर्धन और डिजिटल पहल को मजबूत करने के साथ-साथ बायोफोर्टिफाइड दाल किस्मों के विकास पर जोर दिया।

डॉ बंसा सिंह, निदेशक, भाकृअनुप-आईआईपीआर ने अनुसंधान, विस्तार तथा बुनियादी ढांचे के विकास के क्षेत्र में संस्थान की प्रमुख उपलब्धियों को प्रस्तुत किया।

इस अवसर पर वैज्ञानिक, तकनीकी और सहायक श्रेणियों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले कर्मचारियों को पुरस्कार दिए गए। इस अवसर पर पांच प्रगतिशील किसानों को भी सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर तीन शोध बुलेटिन और एक फोल्डर का विमोचन किया गया।

(स्रोत: भाकृअनुप-भारतीय दलहन अनुसंधान संस्थान, कानपुर)