भाकृअनुप-डीसीएफआर, भीमताल ने किया राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन

24 से 25 सितंबर, 2019, भीमताल

भाकृअनुप-शीत जल मात्स्यिकी अनुसंधान निदेशालय, भीमताल और कोल्डवॉटर फिशरीज सोसाइटी ऑफ इंडिया ने संयुक्त रूप से 'भारत में शीत जल मात्स्यिकी विकास: नवोन्मेषी दृष्टिकोण और पहाड़ी किसानों की आय वृद्धि’ पर 24 सितंबर से 25 सितंबर, 2019 तक एक राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया। संगोष्ठी का आयोजन संस्थान के स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में किया गया था।

ICAR-DCFR, Bhimtal organizes National Symposium  ICAR-DCFR, Bhimtal organizes National Symposium

डॉ. जयकृष्णा जेना, उप महानिदेशक (मत्स्य और पशु विज्ञान), भाकृअनुप ने बतौर मुख्य अतिथि इस क्षेत्र के विकास और पहाड़ी मत्स्य किसानों की आय वृद्धि के लिए प्रौद्योगिकीय, रणनीतिक और नीतिगत हस्तक्षेप पर जोर दिया।

डॉ. जेना ने इस अवसर पर री-सर्कुलेटरी एक्वाकल्चर सिस्टम और कोल्डवॉटर फिश म्यूजियम का उद्घाटन किया। उन्होंने उद्घाटन समारोह के दौरान 6 प्रकाशन और एक लघु फिल्म भी जारी की।

डॉ. देबजीत शर्मा, निदेशक, भाकृअनुप-डीसीएफआर ने देश की स्थायी शीत जल मत्स्य विकास पर हाल की प्रगति और नए विचारों के बारे में जानकारी दी।

संगोष्ठी में 250 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया।

(स्रोत: भाकृअनुप-शीत जल मात्स्यिकी अनुसंधान निदेशालय, भीमताल)