भाकृअनुप-आइआइडब्ल्यूएम, भुवनेश्वर ने जीता सरदार पटेल आउटस्टैंडिंग इंस्टीट्यूशन अवार्ड – 2017

7 मार्च, 2019, भुवनेश्वर

ICAR-IIWM, Bhubaneswar bags Sardar Patel Outstanding Institution Award - 2017

भाकृअनुप-भारतीय जल प्रबंधन संस्थान, भुवनेश्वर ने 'छोटे संस्थानों की श्रेणी' के भाकृअनुप-संस्थानों के बीच सरदार पटेल आउटस्टैंडिंग भाकृअनुप इंस्टीट्यूशन अवार्ड – 2017 जीता। संस्थान को कृषि जल प्रबंधन अनुसंधान और प्रशिक्षण के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

भाकृअनुप-आईएआरआई, नई दिल्ली में 5 से 7 मार्च तक आयोजित पूसा कृषि विज्ञान मेला - 2019 के अवसर पर डॉ. एस. के. अंबास्ट, निदेशक, भाकृअनुप-आइआइडब्ल्यूएम को डॉ. त्रिलोचन महापात्र, महानिदेशक (भा.कृ.अनु.प.) एवं सचिव (कृषि अनुसंधान एवं शिक्षा विभाग) से प्रतिष्ठित पुरस्कार मिला। पुरस्कार के तौर पर एक प्रशस्ति पत्र, एक पट्टिका और 10 लाख रुपए नकद मिला।

संस्थान को वर्ष 2006 के उत्कृष्ट भाकृअनुप-संस्थान पुरस्कार के लिए भी चुना गया था।

भाकृअनुप-भारतीय जल प्रबंधन संस्थान, भुवनेश्वर ने कृषि जल प्रबंधन के क्षेत्र में बुनियादी और अनुप्रयुक्त अनुसंधान में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई है। संस्थान द्वारा कई उत्कृष्ट योगदान दिए गए हैं और संस्थान द्वारा लगभग तीन दशकों की अवधि के निरंतर प्रयास से जल प्रबंधन पर कई व्यवहार्य प्रौद्योगिकियाँ विकसित की गई हैं।

जलवायु प्रतिरोध क्षमता को बढ़ाने के उद्देश्य से, संस्थान ने बाढ़ के बाद प्रबंधन हस्तक्षेप विकसित किया है। संस्थान ने कठोर चट्टान क्षेत्रों में भूजल पुनर्भरण के लिए प्रौद्योगिकियों का विकास किया है और तटीय क्षेत्रों के लिए भूजल पम्पिंग की है। जिला सिंचाई योजना के लिए भाकृअनुप-आइआइडब्ल्यूएम द्वारा विकसित ढाँचा प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना (PMKSY) के तहत क्षमता निर्माण में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है।

(स्रोत: भाकृअनुप-भारतीय जल प्रबंधन संस्थान, भुवनेश्वर)