"उर्वरक के कुशल और संतुलित उपयोग (नैनो-उर्वरक सहित)" पर राष्ट्रीय अभियान आयोजित

21 जून, 2022, भोपाल

भाकृअनुप-भारतीय मृदा विज्ञान संस्थान, भोपाल, मध्य प्रदेश ने आज "उर्वरक के कुशल और संतुलित उपयोग (नैनो-उर्वरक सहित)" पर राष्ट्रीय अभियान का आयोजन किया।

मुख्य अतिथि, डॉ. सुरेश कुमार चौधरी, उप महानिदेशक (प्राकृतिक संसाधन प्रबंधन), भाकृअनुप ने किसानों से अधिक से अधिक लाभ प्राप्त करने और पर्यावरण को स्वच्छ रखने के लिए उर्वरकों और खादों को संतुलित तरीके से लगाने का आग्रह किया।

National Campaign on “Efficient and Balanced Use of Fertilizer (including Nano-fertilizers)” organized  National Campaign on “Efficient and Balanced Use of Fertilizer (including Nano-fertilizers)” organized

डॉ. ए.के. पात्रा, निदेशक, भाकृअनुप-आईआईएसएस, भोपाल ने मृदा स्वास्थ्य और फसल उत्पादकता को बनाए रखने के लिए संतुलित उर्वरक के उपयोग पर जोर दिया।

डॉ. राजेश कुमार, निदेशक, भाकृअनुप-कृषि प्रौद्योगिकी अनुप्रयोग अनुसंधान संस्थान, गुवाहाटी, असम ने किसानों को संतुलित उर्वरकों के उपयोग और नैनो-यूरिया के प्रति किसानों की रुचि बढ़ाने के बारे में अवगत कराया।

 

इससे पहले, गणमान्य व्यक्तियों और प्रतिभागियों का स्वागत करते हुए, डॉ. ए.के. बिस्वास, विभागाध्यक्ष (एससीएफ) और आयोजन सचिव ने राष्ट्रीय अभियान के मुख्य उद्देश्य के बारे में जानकारी दी।

अभियान में किसानों, छात्रों और अन्य हितधारकों सहित लगभग 3,500 प्रतिभागियों ने शिरकत की।

(स्रोत: भाकृअनुप-भारतीय मृदा विज्ञान संस्थान, भोपाल, मध्य प्रदेश)