सरकारी योजनाओं और बाजार के साथ खाद्य उद्यमियों को जोड़ने पर सम्मेलन का उद्घाटन

15 दिसंबर, 2016

डॉ. वी. शंगनाथन, माननीय राज्यपाल, मेघालय द्वारा सरकारी योजनाओं और बाजार के साथ खाद्य उद्यमियों को जोड़ने पर सम्मेलन का उद्घाटन किया गया जिसे उत्तर-पूर्वी पर्वतीय क्षेत्र के लिए भाकृअनुप अनुसंधान परिसर, बारापानी में आयोजित किया गया।

सरकारी योजनाओं और बाजार के साथ खाद्य उद्यमियों को जोड़ने पर सम्मेलन का उद्घाटनसरकारी योजनाओं और बाजार के साथ खाद्य उद्यमियों को जोड़ने पर सम्मेलन का उद्घाटनसरकारी योजनाओं और बाजार के साथ खाद्य उद्यमियों को जोड़ने पर सम्मेलन का उद्घाटन

राज्यपाल महोदय ने अपने संबोधन में इस बात पर बल दिया कि किसानों का हित बड़ा सामाजिक दायित्व है। उन्होंने वैज्ञानिकों, उद्यमियों तथा अन्य सेवादाताओं से आग्रह किया वे युवाओं को कृषि की ओर आकर्षित करने के मुद्दे पर अपने सुझाव प्रदान करें।

डॉ. एस.वी. नचान, निदेशक, उत्तर-पूर्वी पर्वतीय क्षेत्र के लिए भाकृअनुप अनुसंधान केन्द्र, उमियम ने कहा कि अगले दशक में खाद्यान्न के अतिरिक्त 50-60 लाख टन की आवश्यकता है जिसके लिए कृषि उत्पादन में पर्याप्त वृद्धि की जरूरत है।

डॉ. ओम एस. त्यागी, वरिष्ठ निदेशक, एसोचैम ने अपने स्वागत भाषण में कहा कि भारत के उत्तर-पूर्वी क्षेत्र में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग ने महत्वपूर्ण प्रगति की है। उन्होंने कहा कि उद्यमों को अपनाने के लिए उत्सुक प्रगतिशील किसानों को वित्तीय, प्रौद्योगिकिय और विपणन के माध्यम से सहयोग प्रदान किया जाएगा।

सम्मेलन का उद्देश्य कृषि खाद्य उद्योगों के क्षेत्र में उपलब्ध अवसरों, ताजा पहलों को जानने के लिए हितधारकों को मंच प्रदान करना था जिसके माध्यम से वे अपने विचार साझा कर सकें।

(स्रोतः भाकृअनुप - उत्तर-पूर्वी पर्वतीय क्षेत्र के लिए भाकृअनुप अनुसंधान परिसर, बारापानी)